जिंदगी जीने का तरीका ..........................................................

मुमकिन नहीं हर बार वक़्त मेहरबान रहे जिंदगी में....

मुमकिन नहीं हर बार वक़्त महेरबान रहे जिंदगी में। 

कुछ लम्हे जिंदगी में जीने का तरीका भी सीखा जाते है.......| 

एक बार की बात है, दो लड़के थे| एक जोकी देख नहीं सकता था और भीख मांगता था और दुशरा लड़का एक ऐसे ऑफिस में काम करता था जहा का हर आदमी उससे चिडता था, हर आदमी उसको कमजोर महसूस करता था| उनको ये लगता था की ये कुछ नहीं कर सकता तो मालूम नहीं क्यों यहाँ काम है | 
एक दिन की बात थी, वो लड़का जो देख नहीं सकता था , वो एक बड़ी सी बिल्डिंग के नीचे बैठ के भीख मांग रहा था रोजाना का जो उसका काम था  | उसने अपनी टोपी को नीचे रखा था कुछ लोग आ रहे थे जो उसमे कुछ लोग आ रहे थे सिक्का दालते के आगे बढ़ जा रहे पर ज्यादा तर लोग उसे देखते हुए आगे बढ़ते जा रहे थे | उसी बिल्डिंग में दूसरे लड़के का ऑफिस था | ये लड़का सुबह ऑफिस जा रहा था और  की एक लड़का जो देख नहीं सकता है वो भीख मांग रहा है | गौर से देखने पर उसे उस अंधे लड़के क पीछे एक बोर्ड रखा हुआ दिखा जिसमे लिखा हुआ था "मै एक अँधा लड़का हु, मैं देख नहीं सकता हु मेरी मदद कीजिये " और पास जा कर टोपी में देखता है की उसमे बहुत काम सिक्के है| सोचता है की बड़े कमल के लोग है इस शहर के एक ऐसे लड़के को जिसको मदद की जरुरत है उसकी मदद नहीं कर रहे है | ये लड़का बोर्ड पर लिखे सब्दो मिटाता है और कुछ और लिख के कुछ सिक्के टोपी में दाल के चला जाता है | अपने ऑफिस पंहुचा है रोजाना की तरह सब चलता है और सामको जब वापस घर लौटता है तो सोचता है की क्यों ना उस अंधे लड़को देखा जाए की मेरी वजा से उसकी जिंदगी में कोई असर हुआ या नहीं | उसके उस अंधे लड़के के पास पहुंचते ही वो अँधा लड़का खड़ा हो जाता है और वो डीवियांग लड़का इस बन्दे से कहता है " भैया , मई आपके आने की आहाट  पहचान ली, आप वही है ना जो सुबह आये थे और मेरे बोर्ड पर कुछ दूसरा लिख के गए थे | पर मई आपसे पूछना चाहता हु की आपने मेरे बोर्ड पर ऐसा क्या लिख दिया की जो भी यहाँ से निकल रहा है | वो कुछ ना कुछ दान कर के जा रहा है |" तो दूसरे बन्दा बोलता है "मैंने जो लिखा हुआ था उसे मिटा दिया और लिखा आज का दिन बहुत खुभसूरत है और मई इसे देख नहीं सकता , "बस इतना ही मैंने लिखा |
दूसरी लाइन और पहली लाइन में बहुत बड़ा फर्क है |
थोड़ी सी नयी सोच के साथ लिखा गयी थी  दूसरी लाइन :-
१) जिंदगी में जो मिलता है , उसके लिए खुशनसीब महसूस करे , क्युकी कुछ लोगो के पास में वो बी नहीं है | 
२) आप अपनी जिंदगी में आप थोड़ी सी राचमकता ले आईये , तो आपकी जिंदगी बदल जायेगी | 

काम करते रहिये , लेकिन काम करने का तरीका बदल दीजिये। 

 कर दिखाए कुछ ऐसा की ,दिनिया करना कहे आपके जैसा।।।।।।

No comments:

Post a Comment